स्ट्रीट डांसर 3डी मूवी रिव्यू रेटिंग: 3/5 स्टार (तीन स्टार)

स्टार कास्ट: वरुण धवन, श्रद्धा कपूर, नोरा फतेही, प्रभुदेवा, धर्मेश येलांडे, पुनीत पाठक

निर्देशक: रेमो डिसूजा

क्या अच्छा है: टाइटल का दूसरा हिस्सा- ‘डांस’ काफी शानदार है. हर बार की तरह अपने डांस से सभी को दिवाना बनाने वाले प्रभुदेवा चीयर्स के हकदार हैं. फिल्म में जब मुकाबला शुरू होता है तो दिलचस्पी बड़ जाती है.

क्या बुरा है: टाइटल का पहला हिस्सा- ‘स्ट्रीट’ आपको भ्रम में डालता है (इस पहलू के बारे में अधिक जानने के लिए पढ़ें).

लू ब्रेक कब लें: जब किसी सीन में अभिनय के साथ भावनाओं को दिखाने की कोशिश की जा रही हो तो आप बाहर जा सकते हैं, लेकिन गाने की धुन पर नहीं.

देखें या नहीं?: अगर आपको डांस पसंद है और आपने एबीसीडी 1 और 2 को देखा है तो आपको फिल्म के सारे ट्रिक्स पता है, लेकिन आप चाहें तो इसकी नई ट्रिक्स को जान सकते हैं. फिलहाल, सिर्फ डांस के जादू को देखने के लिए जाएं.

ये कहानी सहज (वरुण धवन) और इंदर (पुनीत) की है, जो लंदन में अपना डांस ग्रुप चलाते हैं. वहीं, इस ग्रुप का नाम ‘स्ट्रीट डांसर’ है. एक और किरदार नजर आता है इनायत (श्रद्धा कपूर) का, जो पाकिस्तानी मूल की है. फिल्म में इन दोनों ग्रुप का टकराव लंदन की सड़कों पर, डांस और इंडिया-पाकिस्तान क्रिकेट मैच के दौरान होता है. वहीं, इस टकराव का अखाड़ा बनता है अन्ना (प्रभु देवा) के रेस्टोरेंट में. इस बीच सहज की कहानी शुरू होती है. वो पंजाब पैसों के लिए एक शादी करने जाता है. फिर वहां से चार लोगों को अवैध रूप से लंदन ले आता है और उसी पैसे से भाई के लिए स्टूडियो खोलता है. सहज का एक ही सपना है उसके भाई के ग्रुप स्ट्रीट डांसर को नंबर वन बनाना.

फिर आता है कहानी में नया मोड़. जी हां, इस बीच एक इंटरनेशनल कॉम्पटीशन का अनाउंसमेंट होता है. दोनों ही ग्रुप उसकी तैयारी में जुट जाते हैं. मगर इनायत को अन्ना की वह बात पता चलती है, जिससे उसकी जिंदगी का मकसद बदल जाता है. दरअसल, अन्ना अपने रेस्टोरेंट का बचा हुआ खाना अवैध रूप से आए अप्रवासियों को मुफ्त में खिलाते हैं. उसका सपना है कि इन सभी लोगों को अपने देश वापस भेजा जाए, मगर इसके लिए बहुत पैसा चाहिए.

अब इनायत इस मकसद में उनका साथ देती है, जिसके लिए उसे इस कॉम्पटीशन को जीतना जरूरी हो जाता है क्योंकि अगर अगर वह कॉम्पटीशन जीत जाते हैं तो यह सपना पूरा हो सकता है. फिल्म की कहानी में इन दोनों के मकसद में क्या सहज साथ देगा? क्या यह लोग कॉम्पटीशन जीत पाएंगे? इसी ताने-बाने पर पर बुनी गई है स्ट्रीट डांसर 3डी.

स्ट्रीट डांसर 3डी मूवी रिव्यू: स्क्रिप्ट एनालिसिस

इससे पहले कि हम तकनीकी पहलुओं में गहराई से उतरें, क्या कोई कमेंट सेक्शन में मुझे बता सकता है कि इसका टाइटल एबीसीडी3 क्यों नहीं है? मैं मानता हूं कि रेमो डिसूजा वास्तव में अपने डांस से हम सभी को अपना दिवाना बना देते हैं. वहीं, फिल्म में जब सभी किरदार अभिनय के साथ एक भावनात्मक सीन को दिखाने की कोशिश करते हैं तो कहानी थोड़ा हेरफेर नजर आता है. डांस प्रेमियों के लिए एक चीज बेहद खास है कि आखिर कैसे रेमो डिसूजा का डांस फिल्म में काम करता है, जब एक सीन में वरुण कहते हैं, “4-5 सालों से यहीं डांस तो कर रहे हैं.”

अब एक बड़ी बात, जहां फिल्म की कमी है. वह है इसकी कहानी. एक अच्छी कोरियोग्राफी तब होती है, जब आपको पता होता है कि आखिरकार कौन जीतेगा. कहीं न कहीं यह रोमांच को खत्म करता देता है. एक मोड़ पर मुझे विचार आता है, जिसने मुझे बेहद परेशान किया है. दरअसल, मेरे मन में ये सवाल बार-बार आता है कि निर्माताओं को पूरी फिल्म में देसी जोनर वाली सड़क क्यों नहीं मिली.

बता दूं कि ये सवाल सिर्फ फिल्म के टाइटल की वजह से है. फिल्म की शुरूआत में आपको मिलेगा डांस का जादू, जिसे देख आपका दिल थिरकने के लिए मजबूर हो जाएगा. वहीं, डांस के कुछ सीन्स गुदगुदाएंगे भी.

स्ट्रीट डांसर 3डी मूवी रिव्यू: स्टार परफॉर्मेंस

वरुण धवन ने अपनी डांस परफॉर्मेंस से सभी का दिल जीता. कहीं न कहीं एबीसीडी 2 के बाद से उनके डांस में एक बेहतर सुधार देखने को मिला है. श्रद्धा कपूर का अभिनय अपनी कम छाप छोड़ता है, लेकिन उनका डांस संतुलन बनाएं रखता है.

अब बात प्रभुदेवा की जिनके डांसिग स्टाइल के हम सब कायल है. बता दें कि फिल्म के प्रेस शो में प्रभुदेवा को सबसे ज्यादा चीयर्स तब मिला, सिर्फ उन्होंने मुकाबला पर डांस किया. फिल्म में उनका डांसिग स्टाइल दिल जीतता है. नोरा फतेही एक बार फिर से अपना जलवा बिखेरती नजर आती हैं. फिल्म के बाकि किरदार भी अपने अभिनय के साथ संतुलन बनाएं रखते हैं.

स्ट्रीट डांसर 3डी मूवी रिव्यू: डायरेक्शन, म्यूजिक

पहले आप ये जान ले कि रेमो डिसूजा ने इस फिल्म को ‘डायरेक्ट’ करने से ज्यादा कोरियोग्राफ किया है. फिल्म में जब वो डांस करते हैं तो वह सीन आपको एक अलग ही दुनिया में ले जाता है, जिसे आप बेहद पसंद करते हैं. हालांकि, यह एबीसीडी 2 की तुलना में एक अच्छी कोशिश है, लेकिन कहानी में कमी है.

इललीगल वेपन 2.0 और लाहौर ठीक है. गर्मी सचमुच तापमान बढ़ाता है क्योंकि नोरा फतेही आपके दिल में उतरती हैं. सचिन-जिगर का बैकग्राउंड स्कोर डांसिंग सीक्वेंस को पीछे छोड़ देता है.

स्ट्रीट डांसर 3डी मूवी रिव्यू: द लास्ट वर्ड
कुल मिलाकर, स्ट्रीट डांसर 3डी एक लुभावनी डांस का वादा करता है. अगर आपको डांस पसंद है तो इसकी नई ट्रिक्स को जान सकते हैं.

तीन स्टार!

स्ट्रीट डांसर 3डी ट्रेलर…

24 जनवरी, 2020 को स्ट्रीट डांसर 3डी रिलीज़.

हमारे साथ स्ट्रीट डांसर 3डी को देखने के अपने अनुभव को साझा करें.

यह भी देखें